ॐ नमः शिवाय गलत पंचाक्षरी मंत्र है - श्री शिव पुराण

एक बार ब्रह्मा तथा विष्णु की किसी बात पर लड़ाई हो गई। (विवरण यहाँ पर) तब उनके बीच में एक तेजोमय लिंग प्रकट हो गया तथा ओ3म्-ओ3म् का नाद प्रकट हुआ तथा उस लिंग पर अ-उ-म तीनों अक्षर भी लिखे थे। फिर रूद्र रूप धारण करके सदाशिव पाँच मुख वाले मानव रूप में प्रकट हुए, उनके साथ शिवा (दुर्गा) भी थी।

देखिये विवरण इस विडियो में। 

Om Namah Shivaya or Panchakshari Mantra