sant-rampal-ji

सत भक्ति करने के पीछे क्या मकसद होना चाहिए? किस उद्देश्य से नाम लेना चाहिए और सतभक्ति करनी चाहिए? सतभक्ति करने का मुख्य लाभ क्या है और इसे करने के उप-उत्पाद(अतिरिक्त लाभ) क्या है?

सतगुरु रामपाल जी महाराज उपरोक्त प्रश्नों का नीचे दिए गए 3 वीडियो में बहुत अच्छा स्पष्टीकरण देते हैं। सत भक्ति करने और उसके लाभ प्राप्ति की पूरी अवधारणा को समझने के लिए इन्हें पूरा देखें।

संक्षेप में, भक्ति मोक्ष प्राप्ति (मुक्ति/मोक्ष) के उद्देश्य से की जानी चाहिए। सांसारिक लाभ, समृद्धि और अच्छा स्वास्थ्य सत भक्ति के उप-उत्पाद/अतिरिक्त लाभ हैं। हालाँकि सतगुरु रामपाल जी महाराज द्वारा दी गयी परमेश्वर कबीर जी की सतभक्ति में दृढ़ विश्वास रखने की आवश्यकता है। उन्हें भक्ति के नियमों का पालन करने और धैर्य रखने की आवश्यकता है और फिर निश्चित रूप से नाम के लाभों (भक्ति से होने वाले लाभ) को प्राप्त करता है।

समृद्धि और अच्छा स्वास्थ्य - सतभक्ति के उप-उत्पाद / अतिरिक्त लाभ

समृद्धि और अच्छा स्वास्थ्य

सतभक्ति से लाभ कैसे प्राप्त करें- मोक्ष का उद्देश्य/लक्ष्य, भगवान कबीर में पूर्ण विश्वास रखें और नियमों का पालन करें
मोक्ष का लक्ष्य/उद्देश्य, भगवान कबीर में पूर्ण विश्वास रखें

सत भक्ति के लाभ प्राप्त करने के लिए- विश्वास, धैर्य रखें और नियमों का पालन करें