मनुष्य जीवन का मुख्य उदेश्य मोक्ष प्राप्ति है - पूर्ण सतगुरु रामपाल जी महाराज

ये मनुष्य जीवन हमे पूर्ण परमात्मा कबीर साहिब की भक्ति करने के लिए प्राप्त हुआ है। इस मनुष्य का एक मात्र उदेश्य मोक्ष की प्राप्ति है। सर्व पवित्र ग्रन्थों का सार येही है की एक पूर्ण संत से नाम दीक्षा प्राप्त कर के इस जनम मृत्यु के रोग से मुक्ति पानी चाहिए। पूर्ण संत की यह पहचान है की वो तीन नाम तीन चरण में देता है और उसको ये नाम दान देने की अनुमति होती है।

सतगुरु रामपाल जी महाराज विश्व में एक मात्र संत हैं जो की अपने शिष्यो को सत्नाम दे कर मोक्ष की प्राप्ति करवा सकते हैं।

और पढ़ें ...

About

God Kabir

पूर्ण परमात्मा कबीर साहिब (कविर देव) है

विक्रमी संवत् 1455 (सन् 1398) ज्येष्ठ मास की पूर्णिमा सुबह-सुबह ब्रह्ममुहुर्त में वह पूर्ण परमेश्वर कबीर (कविर्देव) जी स्वयं अपने मूल स्थान सतलोक से आए। काशी में लहर तारा तालाब के अंदर कमल के फूल पर एक बालक का रूप धारण किया।

कविर देव के बारे में और जानकारी ...
Saint Rampal Ji

संत रामपाल जी महाराज का संक्षिप्त परिचय

संत रामपाल जी का जन्म 8 सितम्बर 1951 को गांव धनाना जिला सोनीपत हरियाणा में एक किसान परिवार में हुआ। पढ़ाई पूरी करके हरियाणा प्रांत में सिंचाई विभाग में जूनियर इंजिनियर की पोस्ट पर 18 वर्ष कार्यरत रहे।

और पढ़ें ...
Garib Das Ji

संत गरीबदास जी महाराज (1717 - 1778)

आदरणीय गरीबदास साहेब जी का आर्विभाव सन् 1717 में हुआ तथा साहेब कबीर जी के दर्शन दस वर्ष की आयु में सन् 1727 में नला नामक खेत में हुए तथा सत्लोक वास सन् 1778 में हुआ।..

और पढ़ें ...

Supreme God in All Religions

Knowledge

Gyan Ganga

ज्ञान गंगा

हमारे सभी धार्मिक ग्रन्थों व शास्त्रों में उस एक प्रभु/मालिक/रब/खुदा/अल्लाह/ राम/साहेब/गोड/परमेश्वर की प्रत्यक्ष नाम लिख कर महिमा गाई है कि वह एक मालिक/प्रभु कबीर साहेब है जो सतलोक में मानव सदृश स्वरूप में आकार में रहता है।

पढ़ें ज्ञान गंगा...
Rules of Worship

नाम लेने वाले व्यक्तियों के लिए आवश्यक जानकारी

सत भक्ति करने के लिए कुछ नियमो का पालन करना ज़रूरी है। इन नियमो का पालन किए बिना भक्ति सफल नहीं हो सकती।

भक्ति मर्यादा ...

Creation of Nature

  • Creation of Universe
  • Satlok
  • Meditation by Kaal
  • consent by souls
  • Genesis of Durga
  • Kaal evicted from Satlok
  • Birth of Brahma Vishnu Shiv
  • Kaal controls Brahma Vishnu Shiv

सृष्टी की रचना कैसे हुई?

प्रभु प्रेमी आत्माऐं प्रथम बार निम्न सृष्टी की रचना को पढेंगे तो ऐसे लगेगा जैसे दन्त कथा हो, परन्तु सर्व पवित्र सद्ग्रन्थों के प्रमाणों को पढ़कर दाँतों तले उँगली दबाऐंगे कि यह वास्तविक अमृत ज्ञान कहाँ छुपा था? कृप्या धैर्य के साथ पढ़ते रहिए तथा इस अमृत ज्ञान को सुरक्षित रखिए।

पढ़ें सृष्टि रचना ...