आलम बड़ा कबीर - गुरु नानक देव जी और काजी रूकनदीन की वार्ता - जन्म साखी भाई बाले वाली < Jagat Guru Rampal Ji

Jagat Guru Rampal Ji Maharaj

English || हिन्दी

आलम बड़ा कबीर - गुरु नानक देव जी और काजी रूकनदीन की वार्ता - जन्म साखी भाई बाले वाली

जन्म साखी भाई बाले वाली में गुरु नानक देव जी ने स्पष्ट किया है की सबसे बड़ा परमात्मा कबीर है।  

‘‘भाई बाले वाली जन्म साखी’

एक काजी रूकनदीन सूरा के प्रश्न का उत्तर देते हुए श्री नानक देव जी ने कहा:-

खालक आदम सिरजिआ आलम बड़ा कबीर।
काइम दाइम कुदरती सिर पीरां दे पीर।
सयदे (सजदे) करे खुदाई नूं आलम बड़ा कबीर।

 

 

भावार्थ है कि जिस परमात्मा ने आदम जी की उत्पति की वह सबसे बड़ा परमात्मा कबीर है। वही सर्व उपकार करने वाला है तथा सब गुरुओं में शिरोमणी गुरु है। उस सब से बड़े कबीर परमेश्वर को सिजदा करो अर्थात् प्रणाम करो, उसी की पूजा करो।